नशे की डबल डोज देकर की अपने ही दोस्त की हत्या, आरोपी 2 सगे भाई सहित 3 गिरफ्तार

240
ख़बर सुने
🔔 वीडियो खबरें देखने के लिए 👉 यहां क्लिक करें 👈और हमारे चैनल को सब्सक्राइब व 🔔 का बटन दबा कर तुरंत पाए ताजा खबरों की अपडेट

यमुनानगर, 4 सितंबर (नवदेश टाइम्स) : नशा इस कदर बढ़ रहा है कि दोस्त ही दोस्त की हत्या कर रहे हैं। ताजा मामला सीआईए वन में सामने आया है, जिन्होंने तीन ऐसे आरोपियों को पकड़ा है जो नशे की डबल डोज देकर अपने ही दोस्त की हत्या कर दी। मामले में आरोपी दो सगे भाई हैं, उन्होंने युवक की हत्या करने के बाद शव को खुर्दबुर्द करने के लिए जंगल में फेंक दिया था। आरोपियों को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया गया फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।
यमुनानगर के छछरौली के रहने वाले हरप्रीत को नशे की ओवरडोज देकर मारने के मामले में सीआईए पुलिस ने 3 आरोपियों को पकड़ एक अहम कामयाबी हासिल की है। सीआईए वन के इंचार्ज प्रमोद वालिया ने बताया कि उनकी टीम को सूचना मिली थी तीन युवक गुलाबगढ़ बस स्टैंड पर भागने की फिराक में है। गुप्त सूचना के आधार पर सब इंस्पेक्टर जीतसिंह टीम के साथ मौके पर पहुंचे और तीन युवकों को गिरफ्तार किया। जिनकी पहचान नाहर ताहरपुर निवासी लाभ सिंह, रवि उर्फ शुभम व उर्जनी निवासी कपिल उर्फ काला के नाम से हुई। रवि व लाभ सिंह सगे भाई हैं जिन्होंने अपने दोस्त के साथ मिलकर अपने ही दोस्त की नशे की डोज को लेकर हत्या कर दी। आरोपियों को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया गया है।

 सीआईए वन इंचार्ज प्रमोद वालिया ने बताया कि छछरौली के खेड़ा मोहल्ला निवासी हरप्रीत सिंह गुरुग्राम में एक कार कंपनी में नौकरी करता था वह रविवार 28 अगस्त को घर आया। आरोपी लाभ सिंह ने उसे फोन कर अपने गांव में बुला लिया, वहां पर रवि व कपिल भी मौजूद थे। हरप्रीत सिंह ने नशे के इंजेक्शन के पिछले 3 महीने से आरोपियों के पैसे देने थे लेकिन वह नहीं दे रहा था और पैसे मांगने पर गाली गलौज करता था उस दिन भी जब पैसे मांगे तो उसने गाली गलौज की आरोपियों ने इंजेक्शन में डबल डोज डालकर हरप्रीत सिंह को लगा दिया, जिससे वह बेहोश हो गया उसके बाद उसके साथ जमकर मारपीट की जिससे उसकी मौत हो गई। किसी को शक ना हो आरोपी लाभ सिंह ने अपनी कार में हरप्रीत के शव को डाल लिया और रवि व कपिल साथ लेकर उसके शव को लेदा छछरौली कच्चे रास्ते पर जंगल मैं पुलिया के नीचे शव को फेंक दिया और हरप्रीत सिंह की बाइक को कच्चे रास्ते पर खड़ा कर दिया किसी को शक ना हो इंजेक्शन की सिरिंज उसके बाजू में लगा दी। उसके बाद मौके से फरार हो गए।
इंचार्ज प्रमोद वालिया ने बताया कि तीनों आरोपी व मृतक हरप्रीत नशे के आदी थे और वह नशे के इंजेक्शन लगाते थे लेकिन हरप्रीत ने पिछले 3 महीने से उन्हें कोई पैसा नहीं दिया था मैं उसे बार-बार पैसे मांग रहे थे इसी को लेकर उनका झगड़ा हुआ और उन्होंने उसकी हत्या करने की साजिश बनाई । आरोपी लाभ सिंह पर पहले भी कई संगीन मामले दर्ज हैं ।
फिलहाल पुलिस ने इन तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर पुलिस रिमांड लेगी पुलिस का कहना है कि इनसे और भी बड़े खुलासे होने की उम्मीद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here