रादौर – मंदिर के गेट पर मिले नवजात की 13 दिन बाद इलाज के दौरान मौत 

73
ख़बर सुने
🔔 वीडियो खबरें देखने के लिए 👉 यहां क्लिक करें 👈और हमारे चैनल को सब्सक्राइब व 🔔 का बटन दबा कर तुरंत पाए ताजा खबरों की अपडेट

रादौर, 24 सितंबर (कुलदीप सैनी) :  एक कलयुगी मां द्वारा थैले में मंदिर के गेट पर लटकाए गए नवजात ने 13 दिनों बाद इस बेरहम दुनिया को अलविदा कह दिया। नवजात सिविल अस्पताल के नवजात शिशु केंद्र में ईलाज चल रहा था। थाना प्रभारी ने उसकी मौत की पुष्टि करते हुए कहा कि बच्चे का पोस्टमार्टम करवा दिया गया है और उसका डीएनए भी लिया गया है। जिसके आधार पर जांच को आगे बढ़ाया जाएगा। बता दे कि 11 सितंबर की सुबह गांव नाचरौन के आवर्धन नहर पुल के समीप बने मंदिर के गेट पर एक थैले में नवजात बच्चा मिला था। मंदिर के पुजारी ने जब इसे देखा तो मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने बच्चे को तुरंत अस्पताल पहुंचाया जिसके बाद अब उसका सिविल अस्पताल यमुनानगर के नवजात शिशु केंद्र में ईलाज चल रहा था। इलाज के दौरान जिंदगी और मौत की जंग लड़ते हुए नवजात ने दम तोड़ दिया। थाना प्रभारी संदीप कुमार ने बताया कि बच्चे की इलाज के दौरान मौत हो गई है। जिसके शव को पोस्टमार्टम करवाया गया है। साथ ही डीएनए भी लिया गया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। नवजात के डीएनए रिर्पोट के आधार पर जांच को आगे बढ़ाया जाएगा। फिलहाल बच्चा किसका है और क्यों इसे यहां पर छोड़ा गया इस बारे कोई जानकारी नहीं मिल पाई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here