रादौर – बुबका में किसानों ने रुकवाया अम्बाला – शामली हाईवे का कार्य, सरकार से की ये मांग

296
ख़बर सुने
🔔 वीडियो खबरें देखने के लिए 👉 यहां क्लिक करें 👈और हमारे चैनल को सब्सक्राइब व 🔔 का बटन दबा कर तुरंत पाए ताजा खबरों की अपडेट

रादौर, 25 अगस्त (कुलदीप सैनी) : अंबाला-शामली हाईवे के लिए अधिग्रहण की गई भूमि के मुआवजे में बढ़ोतरी करने व सर्विस लेन की व्यवस्था करने की मांग को लेकर किसानों ने गांव बुबका में शुरू हुए कार्य को रूकवा दिया। किसानों ने सरकार व प्रशासन विरोधी नारेबाजी करते हुए भूमि के मुआवजे को बढ़ाने व सर्विस लेन की व्यवस्था करने की मांग की। किसानों का आरोप है कि सरकार बाजार भाव से काफी कम मुआवजा उन्हें दे रही है। जिससे किसानों को नुकसान उठाना पड़ेगा। वहीं हाइवें पर सर्विस लेन न होने के कारण क्षेत्र के लोगों को इसका फायदा नहीं मिल पाएगा।

रादौर के गांव बुबका में हाइवे के निर्माण के लिए शुरू किया गया कार्य।

किसान बलबीर, नोरती राम, गुरमेल, प्रीतीलाल, राकेश, कुलदीप सिंह, राजबीर, देवीचंद, अजय, भूषणलाल, सुरेश कुमार इत्यादि ने बताया कि अंबाला-शामली हाइवे के लिए सरकार ने क्षेत्र की सैंकड़ो एकड़ भूमि का अधिग्रहण किया है। जिसके लिए किसानों को करीब 60 से 65 लाख रूपए प्रति एकड़ मुआवजा दिया जा रहा है, जो कि काफी कम है। यह मुआवजा कम से कम डेढ़ करोड़ प्रति एकड़ होना चाहिए। तभी किसानों को बाजार भाव के हिसाब से मुआवजा मिल पाएगा। वहीं कुछ किसानों की भूमि के अधिग्रहण होने के बाद छोटे छोटे टुकड़े बच गए है। जिनमें अब खेती करना मुश्किल होगा। सरकार ने इसके लिए कोई योजना नहीं बनाई। यह किसानों के लिए नुकसानदायक है। वहीं इस हाइवें में सर्विस लेन की व्यवस्था भी नहीं की जा रही है। जिससे क्षेत्र के लोगों को इसका लाभ नहीं मिल पाएगा। ऐसे में किसानों ने आज इस कार्य को रूकवाने का निर्णय लिया। उन्होंने सरकार से मांग की कि उनकी इस मांग को पूरा किया जाए और उसके बाद भी हाईवे का निर्माण कार्य शुरू करवाया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here