रादौर – रिश्वत लेते हैड कांस्टेबल रंगे हाथों गिरफ्तार, पंचकूला विजिलेंस की टीम ने किया काबू 

9488
ख़बर सुने
🔔 वीडियो खबरें देखने के लिए 👉 यहां क्लिक करें 👈और हमारे चैनल को सब्सक्राइब व 🔔 का बटन दबा कर तुरंत पाए ताजा खबरों की अपडेट

रादौर, 16 दिसंबर (कुलदीप सैनी) : पंचकूला विजिलेंस की टीम ने रेड कर रादौर थाने में तैनात एक हैड कांस्टेबल को 5 हजार की रिश्वत के साथ रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। रिश्वत के साथ पकड़ा गया हैड कांस्टेबल अजय सिंह राणा पहले हमीदा चौंकी में तैनात था। मूल रूप से यह अंबाला का रहने वाला है। विजिलेंस की टीम ने पूरी कार्रवाई गांव जुब्बल के रहने वाले जय कुमार की शिकायत पर की है। डयूटी मजिस्ट्रेट पंचकूला रोडवेज के जीएम रविंद्र पाठक रहे। जानकारी के अनुसार शिकायतकर्ता जुब्बल निवासी जय कुमार के दादा के साथ 4 नवम्बर को दुर्घटना हो गई थी। दुर्घटना के बाद उनका अस्पताल में इलाज चल रहा था। इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। इस केस को हेड कांस्टेबल अजय देख रहे थे। आरोप लगाए कि जांच अधिकारी अजय इस मामले में कोर्ट में चालान पेश करने में देरी कर रहे थे व चालान पेश करने की एवज में रिश्वत की डिमांड की जा रही थी। रिश्वत के तौर पर जय कुमार कुछ पैसे पहले हेड कांस्टेबल को दे चुका था। लेकिन वह और पैसों की डिमांड कर रहा था। 5 हजार रुपए और देने की डिमांड की जा रही थी। पैसे देने के बाद कोर्ट में चालान पेश करने की बात जांच अधिकारी अजय कह रहा था। परेशान होकर जय कुमार ने शिकायत विजिलेंस टीम को दी। टीम ने आरोपी को बुबका रोड पर रिश्वत के पैसे लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया। बता दें कि कुछ दिन पहले ही स्थानीय विजिलेंस टीम ने यमुनानगर महिला थाने में तैनात सब इंस्पेक्टर व ए.एस.आई. को रिश्वत लेते रंगे हाथो गिरफ्तार किया था। उससे पहले विजिलेंस टीम ने बिजली निगम रादौर के कार्यालय में रेड कर एक जेई को रिश्वत लेते पकड़ा था। लेकिन इसके बाद भी काम के बदले सरेआम रिश्वत की डिमांड की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here