रादौर – सरकारी कॉलेज में हवाई फायरिंग करने वाले युवकों ने पुलिस पूछताछ में बताया फायरिंग करने के पीछे की वजह

2261
रादौर - सरकारी कॉलेज में हवाई फायरिंग मामले के दो आरोपी गिरफ्तार, जानिए क्यों की गई थी फायरिंग
ख़बर सुने
🔔 वीडियो खबरें देखने के लिए 👉 यहां क्लिक करें 👈और हमारे चैनल को सब्सक्राइब व 🔔 का बटन दबा कर तुरंत पाए ताजा खबरों की अपडेट

यमुनानगर, 6 जनवरी (नवदेश संवाददाता) : पुलिस प्रवक्ता चमकौर सिंह ने बताया कि पुलिस अधीक्षक कमलदीप गोयल ने जिला पुलिस को अपराध व अपराधियों पर सख्त  कार्यवाही के निर्देश दिए हुए हैं। इन्हें निर्देशों के तहत कार्रवाई करते हुए अपराध शाखा – 2  की टीम ने 28 दिसंबर को रादौर के सरकारी कॉलेज में दो युवकों के द्वारा हवा में की गई फायरिंग के मामले में दो आरोपियों को सडोरा से गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। आरोपियों को रिमांड पर लिया गया ताकि उनसे फायरिंग के दौरान इस्तेमाल किए गए हथियार व कार बरामद कर सके। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

गुप्त सूचना पर यहां से किया गिरफ्तार

 इंचार्ज मैहरूफ अली ने बताया कि उनकी टीम को गुप्त सूचना मिली कि दो युवक सडोरा के पास दोसड़का चौक पर संदिग्ध अवस्था में घूम रहे हैं। इस सूचना के आधार पर उप निरीक्षक श्यामलाल, एएसआई उमेश, विपिन, सुनील का गठन किया गया।टीम ने मौके पर जाकर दोनों को गिरफ्तार किया। जिनकी पहचान अलाहर निवासी राजन उर्फ़ आदर्श पुत्र सुभाष व करनाल के कलरी जागीर निवासी रजत पुत्र बिरम पाल के नाम से हुई है। आरोपियों को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया गया। इंचार्ज ने बताया कि 28 दिसंबर को रादौर के कॉलेज में दो युवक कार में सवार होकर आए और पहले गेट पर बैठे चौकीदार को धमकाया और कॉलेज में अंदर जाकर दोनों ने चार राउंड फायर किए। दोनों के पास हथियार थे और उसके बाद फरार हो गए।

फायरिंग के पीछे ये बताया कारण

इंचार्ज ने बताया कि कॉलेज में बूबका निवासी अभिषेक चुनाव करवा रहा था और प्रधान पद के लिए ही रंजिश हुई थी। उसके बाद 23 दिसंबर को एक युवक ने राजन पर व्हाट्सएप काल के माध्यम से धमकी दी और कहा कि वह चुनाव के दौरान रैली निकालेंगे और उसे धमकाया जिससे तैश में आकर राजन ने अपने साथी रजत के साथ मिलकर कॉलेज में फायरिंग कर फरार हो गए। पुलिस ने मामले में दोनों आरोपी को गिरफ्तार कर लिया और कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया है। ताकि फायरिंग के दौरान इस्तेमाल किए गए हथियार व कार बरामद की जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here