रादौर – हाई वोल्टेज बिजली के तार की चपेट में आकर दो मजदूर गंभीर रूप से घायल

369
ख़बर सुने
🔔 वीडियो खबरें देखने के लिए 👉 यहां क्लिक करें 👈और हमारे चैनल को सब्सक्राइब व 🔔 का बटन दबा कर तुरंत पाए ताजा खबरों की अपडेट

रादौर, 16 अगस्त (कुलदीप सैनी) : 11 हजार हाई वोल्टेज बिजली के तार की चपेट में आकर दो व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गए। मामला जठलाना की माता कॉलोनी का है। जहाँ एक घर की छत पर निर्माण कार्य में लगे दो मजदूर हाईवोल्टेज तारो की चपेट में आ गए। जिसके बाद आसपास के ग्रामीण गंभीर रूप से घायल मजदूरों को ईलाज के लिए यमुना नगर अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उनका ईलाज चल रहा है। घटना के बाद भड़के कॉलोनी के लोगों ने सड़क पर जाम लगाने की भी कोशिश की, लेकिन जठलाना पुलिस की तत्परता के बाद गुस्साए ग्रामीणों को समझा कर जाम लगाने से रोक दिया गया। जिसके बाद ग्रामीण पावर हाउस पहुंचे और बिजली निगम अधिकारियों व कर्मचारियों के खिलाफ रोष प्रदर्शन

             स्थानीय ग्रामीण इमरान, मांगा राम, विपिन बंसल, अमित शर्मा, फुरकान, याकूब, किरण, फरजाना, मनोज, बाला व मीना का कहना कॉलोनी में कई घरों की छतों के ऊपर बिजली की हाई वोल्टेज तारें गुजर रहे है। जिसे लेकर वह कई बार बिजली निगम के अधिकारियों व कर्मचारियों को शिकायत कर चुके है। लेकिन अभी तक भी उक्त लाईन को दूसरी जगह शिफ्ट नहीं किया गया। कॉलोनी में रहने वाला इमरान मकान बना रहा है। मंगलवार के दिन मकान का लेंटर खुलने का कार्य चल रहा था। लेंटर खोल रहे दो मजदूरों के हाथों में पकड़ा सरिया छत के ऊपर से गुजर रहे बिजली के तार से टकरा गया। जिससे दोनों को करंट लग गया। उन्हें तुरंत ईलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया। जहां उनका उपचार चल रहा है। उन्होंने बिजली निगम के उच्चाधिकारियों से उक्त बिजली की लाइन दूसरी जगह शिफ्ट कराने की मांग की है। वही हादसे में घायल दोनों मजदूरों की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है।

            वही बिजली निगम रादौर के एसडीओ पंकज देशवाल ने से बातचीत की गई, तो उन्होंने बताया कि दो लोगों को करंट लगने की जानकारी मिली है। जहां हादसा हुआ है वहां छत के ऊपर से 11 हजार हाई वोल्टेज के तार गुजर रहे है। हाई वोल्टेज तार के नीचे कंस्ट्रक्शन का कार्य गैरकानूनी है। वहीं अभी तक उनके पास लाईन को शिफ्ट करने के लिए भी कोई शिकायत नहीं आई है। हादसा उक्त लोगों की लापरवाही से हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here